अपने अधिकारों के लिए जागरूक रहें, ध्यान दें अधिकारी और नेता लोक सेवक हैं, इन्हें हम पर आदेश चलाने का कोई अधिकार नहीं है.

Website templates

विकास की गंगा में भ्रष्टाचार का प्रदूषण.....

>> Friday, 26 December 2008

नगर पालिका परिषद के सभासदों ने प्रदेश के राज्यपाल को एक पत्र लिख कर लहरपुर पालिका की धांधलियों की ओर ध्यान दिलाया है. जिसमें सभासदों नसीम बानो, शरीफ अहमद, छोटन्ने बेग ने नगर पालिका परिषद की अध्यक्षा कैसर जहाँ, अधिशासी अधिकारी सुरेन्द्र प्रताप, अवर अभियंता अय्यूब शेख, प्रधान लिपिक नीरज गौड़, लिपिक जलीस अहमद तथा फर्जी बिजली ठेकेदारों के विरुद्ध गंभीर वित्तीय अनियमितता के आरोप लगाये हैं. इन सभासदों का कहना है कि नगर में ३० हाई मास्ट लाइटों में १ करोड़ १२ लाख रुपयों का गबन किया गया है. पालिका ने ५ लाइटें ३.११.२००७ के पत्र द्वारा मेसर्स वी के इंटर प्राईजेस लखनऊ से १२,७५,४००.०० रु० प्रति नग के हिसाब से खरीदी थीं तथा ०८.०५.२००८ को १४ लाइटें १२,५६,५००.०० रु० प्रति नग के अनुसार मेसर्स जनता इलेक्ट्रिक वर्क्स लहरपुर से खरीदीं. जबकि बजाज इलेक्ट्रिक कम्पनी इन लाइटों को ६,७१,०८०.०० रु० प्रति नग के अनुसार एक वर्ष के अनुरक्षण के साथ देती है. इस प्रकार से इन लाइटों की खरीद दारी में ही लगभग १,१२,१७४८०.०० रु० का गबन किया गया है तथा जनता के पैसे का दुरूपयोग किया गया है. इनकी शकायत के अनुसार ये ठेकेदार भी फर्जी हैं और ये सभी तरह से कर चोरी भी कर रहे हैं. इन सभासदों ने इसकी जांच सी बी आई से कराने की मांग की है. साथ ही यह भी मांग की गई है कि इस जाँच में जनपद का प्रशासन विधायक जासमीर के दबाव में है जिससे जांच सही तरह से हो पाने में संदेह है. उल्लेखनीय है कि जासमीर अंसारी पालिका अध्यक्षा कैसर जहाँ के पति हैं. इस शिकायत की प्रति श्री नकुल दुबे, नगर विकास मंत्री उ०प्र०, आयुक्त लखनऊ मंडल, सचिव नगर विकास विभाग, सचिव गृह विकास विभाग, सचिव मुख्यमंत्री शिकायत प्रकोष्ठ को आवश्यक कार्यवाही हेतु भेजी गई है.

0 टिप्पणियाँ:

About This Blog

  © Free Blogger Templates Skyblue by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP